Monday, August 2, 2021
Home Entertainment 'दुनिया में दो तरह के गरीब हैं एक जो..' सोनू सूद ने...

‘दुनिया में दो तरह के गरीब हैं एक जो..’ सोनू सूद ने देश के अमीरों पर कसा तंज, पब्लिक ने भी खुलकर दिए रिएक्शन

कोरोना काल में लॉकडाउन के बाद से सोनू सूद गरीबों के मसीहा बन कर उभरे हैं। ऐसे में तब से लेकर अब तक उनके द्वारा गरीबों की मदद करने का सिलसिला बरकरार है। सोनू सूद अपने ट्विटर अकाउंट से अपने हर फैन को जवाब देते हैं जो उनसे मदद मांगता है। ऐसे में सोनू सूद का एक पोस्ट सामने आया जिसमें वह देश के उन अमीरों पर तंज कसते दिखते हैं जो किसी की मदद नहीं करते। सोनू सूद अपने पोस्ट में बताते हैं कि दो तरह के गरीब असल में होते हैं।

सोनू सूद ने अपने पोस्ट में कहा- दुनिया में दो तरह के गरीब हैं एक जो हालातों से हैं। और दूसरे जो इन गरीबों की मदद नहीं कर पाए। यह दूसरे वाले पहले वालों से बड़े गरीब हैं। सोनू सूद के इस वाक्या को कई लोगों ने सही करार दिया। सोनू सूद के फैंस उनकी इस बात से सहमत नजर आए। वहीं उनके पोस्ट पर ढेरों कमेंट्स की बाढ़ भी आ गई।

सोनू की इस बात का समर्थन करते हुए दीपक ठाकुर नाम के यूजर ने कहा- लेकिन हिंदुस्तान में आप जैसा सिर्फ एक ही अमीर है! कई लोग इस बीच सोनू के फैंस उनके पास अपनी फरियाद लेकर भी पहुंचे। प्रमोद नाम के यूजर ने कमेंट कर कहा- हमारी सरकार का भी बड़ा योगदान होता है, हालात को बद से बदतर तक पहुंचाने में। 2008 से पीड़ित हैं.. 2015 से 2018 तक बहन ने मदद की गुहार लगाई। अब तो मरणासन्न अवस्था में पहुंच गए हैं। हमारे हक/अधिकार से हम वंचित हैं 2008 से। आपको मसीहा कहते हैं जग वाले। कम-से-कम एक बार आप हमारी सुन लो।

एक यूजर ने कविता की कुछ पंक्तियां लिख कमेंट किया- निर्धन गिरे पहाड़ से, कोई न पूछे हाल। धनी को कांटा जो लगे, पूछे लोग हजार। भारती नाम से एक यूजर ने कहा- तीसरे वो जो गरीबों की मदद कर के नगर नगर ढोल पीटते हैं। खुद को खुदा समझने लगते हैं (मसीहा) जो सहायता नहीं कर पाते, उनको नीचा दिखाते हैं। असल में वो सबसे ज्यादा गरीब हैं!

कंचन सिंह चौहान नाम की एक यूजर ने सोनू सूद को सुनाते हुए कहा- मदद करना बहुत अच्छी बात है ..tweet कर के बताना वो कुछ समझ नहीं आया …ऐसा लगा एहसास करा रहे हैं। रविश नाम के यूजर बोले- दूसरे वाले गरीबों में देश की मोदी सरकार का स्थान सबसे ऊपर आता है।

जीतू नाम के यूजर ने कमेंट किया- दुनिया में दो तरह के अमीर हैं। एक जो हालात के मारों और बेसहारा लोगों की मदद करके किसी को पता नहीं चलने देते। और दूसरे किसी मजबूर और लाचार इंसान की मदद करके उसकी लाचारी और बेबसी का पूरी दुनिया मे ढोल पीट देते हैं। ये दूसरे वाले अमीर से कोसो दूर रहना, ये मदद करके इज़्ज़त नीलाम कर देते हैं।



सबसे ज्‍यादा पढ़ी गई


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

पेटीएम की नई प्रणाली के साथ, एसएमबी एकीकृत मंच पर बिलों का भुगतान कर सकते हैं

लघु और मध्यम व्यवसाय (एसएमबी) जो अपने उपयोगिता बिलों को मैन्युअल रूप से संसाधित करते हैं, अक्सर मानव त्रुटि के कारण कुछ भुगतान गायब हो जाते हैं। उन्हें ऐसे बिलों के भुगतान और सामंजस्य को संभालने के लिए कर्मचारियों को नियुक्त करना होगा।

निर्मला सीतारमण के MSME क्षेत्र के लिए आर्थिक उपाय

सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (MSME) ने राजस्व में तेज गिरावट के बाद वित्तीय सहायता की मांग की, जब भारत मार्च 2020 में लॉकडाउन...

दिल्ली में रामराज्य की दस्तक? राजधानी में शराब पीने की उम्र घटी तो बोले पुण्य प्रसून बाजपेयी, यूजर्स दे रहे ऐसा रिएक्शन

दिल्ली सरकार की तरफ़ से नई आबकारी नीति को मंजूरी दे दी गई है, जिसमें शराब पीने की उम्र 25 से घटाकर 21 वर्ष कर दी गई है। कैबिनेट ने नई आबकारी नीति को मंजूरी दी है, जिसमें यह कहा गया है कि राजधानी में शराब की कोई सरकारी दुकान नहीं होगी। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि दिल्ली में अब शराब की कोई नई दुकान भी नहीं खुलेगी।

ये अच्छा मौका है, सब साफ करने का- BJP नेता से बोले अर्णब; शिवसेना प्रवक्ता ने कहा- पहले नार्को टेस्ट की बात करो

रिपब्लिक टीवी पर अपने शो में अर्णब गोस्वामी ने बीजेपी नेता रामकदम से कहा कि ये अच्छा मौका है, सब साफ करने का। शिवसेना प्रवक्ता किशोर तिवारी ने इस पर कहा कि पहले नार्को टेस्ट की बात करो। उनका कहना था कि परमवीर सिंह का नार्को टेस्ट हो, तभी सारे मामले की सच्चाई सामने आएगी।

Recent Comments

%d bloggers like this: